सीटी और ताली मार कर थक जाएंगे ‘सिम्बा’ के डायलॉग और एक्शन पर दर्शक

रोहित शेट्टी जानते है कि कैसे दर्शकों का दिल जीत लिया जाए

 

फिल्म सिम्बा इस साल की सबसे धमाकेदार फिल्म है। फिल्म में रणवीर का स्वैग, एक्टिंग ,डायलॉग हो या फिर अजय देवगन की एंट्री हो या आखिर में अक्षय कुमार की एक झलक, निर्देशक रोहित शेट्टी की इस फिल्म में ऐसा क्या नहीं है जो एक हिट फिल्म में होना चाहिए। इस साल की रिलीज़ होने वाली सबसे आखिरी फिल्म में वो सभी एलिमेंट्स है जो एक सुपर हिट फिल्म में होने चाहिए। लड़कियों के साथ दिन पर दिन बढ़ते जा रहे रेप के मामलो पर आधारित इस फिल्म में एक्शन भी है और इमोशन भी। यूं तो करप्ट पोलिस वाला शायद ही किसी को पसंद आता हो, लेकिन फिल्म सिम्बा के इस करप्ट पोलीस अफसर भालेराव संग्राम यानी सिम्बा से आपको प्यार ज़रुर होगा।

करप्ट है लेकिन दिल का अच्छा है सिम्बा

रोहित शेट्टी की इस फिल्म से पहले अजय देवगन सिंघम में पोलिस अफसर की भूमिका निभा चुके हैं

अनाथ भालेराव संग्राम बचपन से ही गलत लोगों की संगत में आकर गलत तरीके से पैसे कमाना चाहता है, लेकिन उसे जैसे ही पता चलता है कि वर्दी में इतनी ताकत है कि वो सब से पैसे वसूल सकता है, तो वह भी पोलिस अफसर बनने की ठान लेता है और अपनी बाज़ू पर पोलिस नाम का टैटु भी बनवा लेता है। बड़ा होकर पोलिस वाला बन तो जाता है, लेकिन वह एक करप्ट पोलिस अफसर है। उसका काम किसी भी तरह पैसे कमाना है। उसका तबादला गोवा के मिरामार पोलिस स्टेशन में हो जाता है, जहां सिर्फ दुर्वा रानाडे यानी सोनू सूद का राज है। वह भी दुर्वा के साथ मिलकर उसके सभी गलत धंधों में हाथ बटाता है। सिम्बा की एक सबसे खास बात है और वो है कि वह बचपन से भले अनाथ रहा हो, लेकिन सभी को प्यार बांटने में कमी नहीं करता और औरतों की दिल से इज़्ज़त करता है। लेकिन कुछ ऐसा होता है कि जिस दुर्वा के काले धंधों में वो हाथ बटाता था अब उसी दुर्वा के वो खिलाफ होकर वह ईमानदार हो जाता है।

रणवीर और रोहित शेट्टी की जोड़ी है शानदार

सारा अली खान की यह दूसरी फिल्म है

बतौर पोलिस अफसर रणवीर ने बहुत बेहतरीन काम किया है। चालू,लालची पोलिस अफसर के किरदार में वह परफेक्ट है। फ़र्स्ट हॉफ में मनमौजी पोलिस अफसर के तौर पर रणवीर से बेहतर सेकेंड हॉफ का एंग्री पोलिस अफसर रणवीर दर्शकों को ज़्यादा पसंद आएगा।

फिल्म में उनके साथ हैड कॉन्सटेबल का किरदार निभाते आशुतोष राणा, एक ईमानदार अफसर की भूमिका में है, जो लोगों को पसंद आएगा। वह अपने करप्ट अफसर यानी रणवीर के खिलाफ है, लेकिन फिर भी शांति से उसके साथ रहकर उसको उसकी ग़लतियों का एहसास दिलाने में मदद करता है।
फिल्म में सारा अली खान यानी केटरिंग सर्विस चलाती है और उसकी दुकान पोलिस स्टेशन के बाहर ही है। पहली ही नज़र में सिम्बा को उससे प्यार ज़रुर हो जाता है, लेकिन प्यार का इज़हार शगुन ही करती है। वह बिंदास है। हालांकि फिल्म में सारा का रोल काफी कम है, लेकिन इंडसट्री में नई होने के बावजूद उन्होनें जितना काम किया है काबिले तारीफ है।
फिल्म के विलेन सोनू सूद का अभिनय भी शानदार है। इसके अलावा सिम्बा के साथ एक और अफसर है सिद्धार्थ जाधव उनका अभिनय भी बेहतरीन है।

फिल्म देखकर आपके पैसे वसूल ज़रुर होंगे

फिल्म में अजय देवगन और अक्षय कुमार भी है

खास बात है कि इस फिल्म में सीटी और ताली मारने के ढेर सारे बेहतरीन मूमेंट्स है। अगर दर्शकों को इस तरह के तीन से चार मूमेंट्स भी मिल जाए तो दर्शकों को लगता है कि उनके पैसे वसूल हो गए। रोहित शेट्टी की खास बात यहीं है कि वह अपनी हर फिल्म में कोशिश करते है कि लोगों को ऐसे क्षण ज़रुर मिले। फिल्म में मनोरंजन के साथ साथ इन दिनों लड़कियों के साथ बढ़ते जा रहे रेप के मुद्दे को दिखाया गया है। फिल्म आपको सीख तो देती है, लेकिन मनोरंजन के साथ। रोहित शेट्टी की सबसे खास बात है कि आप अपने परिवार के साथ फिल्म को आसानी से देख सकते है। फिल्म में खून, किसींग सीन या ऐसी चीज़ो को रोहित बिल्कुल नहीं दिखाते, जिसे आप परिवार के साथ देखते हुए असहज महसूस करे।

फिल्म में जैसे ही अजय देवगन की एंट्री होती है तो फिल्म फिर से एक नयापन ले लेती है। रणवीर और अजय को एक साथ देखना, दर्शकों के लिए काफी एंटरटेनिंग होगा। इस बात में कोई दो राय नहीं कि सिंघम के आगे भले ही सिम्बा फीका पड़ रहा हो, लेकिन दोनों को साथ साथ देखना लोगों के लिए पैसा वसूल है। आखिर में जहां लगता है कि फिल्म खत्म हो गई वहीं एंट्री होती है वीर सूर्यवंशी यानी अक्षय कुमार की और यहीं पर रोहित अगले साल 2019 में अक्षय कुमार के साथ आ रही उनकी अगली फिल्म सूर्यवंशी की झलक भी दर्शकों को दिखा देते है।

कुल मिलाकर रोहित शेट्टी और रणवीर की यह फिल्म टोटल धमाल और मसाला फिल्म है, हॉट फ्राइडे टॉक्स इस फिल्म को साढ़े चार स्टार देता है।