हेल्दी ब्रेकफास्ट: ऐसे बनाएं ऑमलेट, मिलेगा 100 प्रतिशत फायदा

इन 5 टिप्स को अपनाएं और हेल्दी ऑमलेट पाएं!

 

हर भारतीय घर में सुबह सुबह नाश्ते में लोग हेल्दी खाना खाना पसंद करते हैं  और अंडों से ज़्यादा हेल्दी तो माना ही जाता है, साथ ही वह आसानी से बन जाने वाला नाश्ता है। खास बात है कि ऑमलेट, बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी खाना पसंद करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्रोटीन से भरपूर यह स्त्रोत आपको सौ प्रतिशत फायदा दे सकता है? कैसे? आइए जानते हैं!

आमलेट बनाते वक्त हम सोचते हैं कि अंडों से हमें भरपूर प्रोटीन मिल गया है, इसीलिए इसे और हेल्दी बनाने की ज़रूरत नहीं। लेकिन आमलेट को इन पांच तरीकों से बनाने पर आपको भरपूर फायदा मिल सकता है। जिसमें आपको कैलरीज़ नहीं, बल्कि न्यूट्रीशन मिलेगा।

सब्जियों का इस्तेमाल: आमतौर पर आमलेट बनाने के लिए हम मात्र टमाटर और प्याज का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन आप अपने आमलेट को और भी हेल्दी बना सकते हैं। सब्जियों, जैसे गाजर, ब्रोकोली, पालक इत्यादि का इस्तेमाल आपको ऑमलेट बनाते हुए करना चाहिए। आप चाहें तो इन सब्जियों को पहले स्टिर फ्राय करके या आमलेट के बीच स्टफ करके भी खा सकते हैं।

इन सब्जियों को पहले स्टिर फ्राय करके या आमलेट के बीच स्टफ करके भी खा सकते हैं

प्रोटीन: ज़्यादा प्रोटीन का इस्तेमाल आपके मसल्स को फायदा पहुंचाता है और वेट लॉस के लिए भी आपको प्रोटीन की ज़रूरत होती है। इसीलिए आप आमलेट में प्रोटीन रिच इंग्रेडिएंट्स मिला सकते हैं, जिसमें मशरूम और किनोवा सबसे बेहतर उपाय होंगे। यह आपके ऑमलेट में फ्लेवर को तो बदल ही देंगे, साथ ही आमलेट को प्रोटीन से भरपूर बनाएंगे।

ऑयल: ऑमलेट बनाते हुए यदि आप रिफाइंड या बटर का इस्तेमाल करते हैं, तो सावधान हो जाइए। क्योंकि यह आपके पेट के लिए अच्छा नहीं। लेकिन वहीं यदि आप हेल्थी फैट्स का इस्तेमाल करें, जैसे कोकोनट ऑयल, मस्टर्ड ऑयल, ऑलिव ऑयल इत्यादि, तो आपका आमलेट पूरी तरह से हल्दी बन सकता है। करीब 1 टी स्पून तेल में आपको स्टमक फिलिंग आमलेट मिल जाएगा।

मीट या चीज़: क्या आप जानते हैं कि सभी तरह की चीज़ आपके सेहत के लिए बुरा नहीं होता? जैसे कि फेता चीज़, कॉटेज चीज़ और स्विस चीज़ आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इससे आपको प्रोटीन और कैल्शियम की भरपूर मात्रा मिलती है।यदि आप आमलेट में इसका इस्तेमाल करेंगे, तो इसका स्वाद तो बढ़ेगा ही, साथ ही यह एक हेल्दी ऑप्शन साबित होगा।

यदि आप चीज़ पसंद नहीं करते, तो आपको उबला हुआ चिकन और टर्की का इस्तेमाल आमलेट में करना चाहिए। याद रहे कि आमलेट में रेड मीट और बिकन बाइट्स का इस्तेमाल ना करें, क्योंकि यह आपकी सेहत बिगाड़ सकता है।

सीज़निंग का है कमाल:  यदि आप सही सीज़निंग का इस्तेमाल करते हैं, तो ऑमलेट स्वादिष्ट तो लगेगा ही, साथ में आपके मेटाबॉलिज़्म को भी बढ़ाएगा। इन सीज़निंग में काली मिर्च, पैपरिका, जीरा इत्यादि का समावेश होता है। आप शायद नहीं जानते होंगे कि आप आमलेट में फ्लैक्स सीड्स और चिया सीड्स का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जिसे ब्लैक बींस के साथ खाया जा सकता है।

यदि आप आमलेट बनाने में इन चीज़ों का इस्तेमाल करेंगे, तो यकीन मानिए आपको सुबह के ब्रेकफास्ट का सौ प्रतिशत फायदा मिलेगा!