मकर संक्रांति स्पेशल: क्यों मकर संक्रांति में खाने चाहिए तिल और गुड़ के लड्डू?

तिल खाने से होते हैं बहुत से स्वास्थ्य लाभ

 
credit: ytimg.com

मकर संक्रांति का त्यौहार आने वाला है और इस त्यौहार की तैयारियों में अभी से मग्न हो गए हैं। खास तौर पर भारतीय किचन में संक्रांति के लिए पकवान बनने लगे हैं। इस त्यौहार को अलग-अलग राज्यों में अलग अलग तरह से मनाया जाता है। गुजरात में जहां एक और पतंग के पेंच लड़ते हैं, वहीं दक्षिण भारत में इसे पोंगल के रूप में मनाया जाता है। पंजाब में इस दिन लोहड़ी की धूम रहती है। महाराष्ट्र में इस त्यौहार को ‘तिलगुड़ घ्या आणि गोड़-गोड़ बोला’ इस स्लोगन के साथ मनाया जाता हैं।कुल मिलाकर मकर संक्रांति भारतीय त्योहारों में बेहद महत्व रखता है।

क्या है इस त्यौहार का खास पकवान?

तिल में वे सभी गुण होते हैं, जो सर्दियों में लाभकारी माने जाते हैं

credit: blogspot.com

इस त्यौहार की खास बात यह है लोग इस दिन अपने-अपने घरों में तिल और गुड़ के पकवान बनाते हैं। जिसे वे लोगों में बांटते भी हैं और परिवार वालों को बड़े प्यार से खिलाते हैं। मकर संक्रांति का यह त्यौहार जिसमें तिल इतना महत्व रखता है, आपके स्वास्थ्य के लिए भी इससे बने पकवान बेहद लाभकारी साबित होते हैं। आइए जानते हैं संक्रांति के इस अवसर पर तिल गुड़ खाने के क्या फायदे हो सकते हैं।

क्या हैं तिल और गुड़ के फायदे?

आपको जानकर हैरानी होगी कि तिल में वे सभी गुण होते हैं, जो सर्दियों में लाभकारी माने जाते हैं। न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर की माने तो तिल में मौजूद तत्व आपकी पेट संबंधी समस्याओं को दूर करते हैं, जैसे कब्ज़, अपच, गैस इन सभी समस्याओं का निवारण तिल के लड्डू खाने से हो जाता है। साथ ही गुड़ और तिल का यह मिश्रण सर्दियों में आपको बीमारियों से बचाता है। यह आपके शरीर में आवश्यक गर्मी पैदा करता है और आपको ठंड से बचाता है। साथ ही सर्दियों में होने वाली समस्याओं के प्रति लड़ने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है।

आपको जानकर हैरानी होगी तिल और गुड़ से बने यह लड्डू भूख बढ़ाते हैं। खास तौर पर सर्दियों में जब आपके शरीर को ज्यादा ऊर्जा की आवश्यकता होती है, यह इसकी कमी पूरा करते हैं।

महिलाओं के लिए यह खास तौर पर कारगर माने जाते हैं। मासिक धर्म के दौरान शरीर और पेट दर्द से लड़ने के लिए तिल और गुड़ के लड्डू बेहद फायदेमंद माने जाते हैं।

इसे बनाने के अलग अलग तरीके प्रचलित हैं, लेकिन यदि आप इन्हें घी और मेवों के साथ मिलकर बनाएं तो यह आपकी त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद साबित होते हैं। यह आपके बालों और त्वचा को अंदर से पोषण देते हैं और त्वचा की नमी बरकरार रखते हैं। इसके कई फायदों में से एक फायदा यह भी है कि यह शरीर में खून बढ़ाता है, जिससे आपको थकान महसूस नहीं होती।

खास तौर पर मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए इसे खाने की सलाह दी जाती है। यह तनाव को दूर करता है और मस्तिष्क को आराम देता है। इस तरह तिल और गुड़ से बने लड्डू आपके लिए बेहद फायदेमंद माने जाते हैं। हालांकि इसे सीमित मात्रा में ही खाना चाहिए। जैसा की आप सभी जानते हैं तिल और गुड़ दोनों की तासीर गर्म होती है, इसीलिए इसका ज्यादा सेवन आपके शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकता है।

कैसे बनाए तिल के लड्डू

आप सभी जानते हैं तिल और गुड़ दोनों की तासीर गर्म होती है

credit: archanaskitchen.com

यह तो थे तिल और गुड़ के फायदे, लेकिन आप इसे किस प्रकार बना सकते हैं, आइये जानते हैं। इसे बनाने के लिए तिल को धीमी आंच पर सेंक लें। इसके बाद इसे मिक्सी में पीसकर इसका बूरा बना लें। धीमी आंच पर घी के साथ गुड़ को गर्म करें और फिर तिल के बूरे को गुड़ में मिला लें। आप चाहें तो मेवों को छोटा छोटा काट कर इस मिश्रण में मिला सकते हैं। अब इस मिश्रण को लड्डू के आकार में बांध लें।

रोज़ाना सुबह दूध के साथ इस प्रकार बने एक लड्डू का सेवन करना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा साबित होगा। तो देर किस बात की, आज ही घर पर बनाएं तिल और गुड़ के लड्डू और करें मकर संक्रांति का स्वागत।