नमक की अलग अलग वैरायटी बढ़ा सकती है आपके खाने का स्वाद

अलग-अलग स्वाद के अनुसार है, ये खास नमक के प्रकार

 
varieties-of-salt

एक मामूली सी चीज है नमक यानि साल्ट। खाने में इसका होना और ना होना, स्वाद को पूरी तरह से बदल देता है। अक्सर हम बाज़ार में कई तरह के नमक देखते हैं। सेंधा और काला नमक से लेकर, साधारण नमक के बारे में तो आप जानते ही होंगे, लेकिन इसके अलावा और भी कई तरह के नमक हैं, जिनका इस्तेमाल आप अलग अलग तरीके से कर सकते हैं।

रॉक साल्ट

रॉक साल्ट को पानी में डाल कर नहाने से आप तरोताज़ा महसूस करेंगे।

Credits: naturedwell.com

इस नमक का प्रयोग आइसक्रीम बनाने में किया जाता है और इसी के साथ यह नमक उस आइसक्रीम की शेप को बनाए रखने में मदद करता है और उसे पिघलने नहीं देता।

सर्दियों के मौसम में पहाड़ी क्षेत्रों में इसका प्रयोग रास्तों में जमी हुई बर्फ को पिघलाकर हटाने में किया जाता है। इसका प्रयोग सीधे तौर पर खाने में नहीं किया जाता, क्योंकि यह सुरंग आदि में पैदा होता है। इसलिए ज़रुरी है कि इसको प्रयोग में लाने से पहले रिफाइंड किया जाए।

अचार के लिए पिक्लिंग साल्ट

हर तरह के आचार में यह नमक मिलाया जाता है।

Credits: localglobalkitchen.com

यह समुद्री नमक होता है, इसमें आयोडीन की मात्रा भरपूर होती है। अचार का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है और ये नमक अचार का स्वाद और बड़ा देता है। ये अचार के प्राकृतिक रंग को भी बनाए रखता है। इसलिए इस नमक का प्रयोग मुख्य रूप से अचार बनाने में किया जाता है।

परफेक्ट टेस्ट के लिए कोशर साल्ट

सब्जी बनाते वक्त कड़ाही में तेल डालने से पहले अगर एक चुटकी नमक डाल दें तो वह बर्तन में चिपकेगी नहीं।

Credits: livestrongcdn.com

कोशर सॉल्ट शीघ्र घुलने वाला नमक है, जिसका इस्तेमाल खाना पकाने में होता है। इसलिए रेस्त्रा में शेफ इस नमक को ज़्यादा प्राथमिकता देते हैं। इस नमक का प्रयोग रोस्टेड आइटम्स जैसे रोस्टेड चिकन, रोस्टेड सैंडविच जैसी डिशेज़ को बनाने में किया जाता है। कोसर नमक बनाने में किसी भी प्रकार के केमिकल्स का प्रयोग नहीं किया जाता। यह बड़ी ही आसानी से मुंह में घुल जाता है। इसलिए यह स्वाद में एकदम परफेक्ट टेस्ट देता है।

फ्लेक्स सी साल्ट

बर्तन से प्याज की गंध आती है, तो उसे नमक मिले पानी से धोएं। गंध चली जाएगी।

Credits: seasaltfoodco.com

इस नमक का स्वाद पूर्ण रूप से खारा नमकीन होता है। इसमें कई प्रकार के खनिज पदार्थ होते हैं, जो लाभदायक होते हैं। साथ ही इसका प्रयोग खाने में एक नया स्वाद पैदा कर देता है। इसका प्रयोग मुख्य तौर पर रेशेदार खाने जैसे सलाद और सब्जियों को उबालने या फिश आदि को उबालने में किया जाता है। यह सूप, कुकीज़, पॉपकॉर्न, पास्ता आदि के टेस्ट को और अधिक बढ़ा देता है। इस नमक का प्रयोग आइसक्रीम के लिए भी किया जाता है, लेकिन इसका प्रयोग ज़्यादा नहीं करना चाहिए।

सायप्रस नमक

अधिक नमक खाना सेहत के लिए हानिकारक है

Credits: squarespace.com

सायप्रस साल्ट यह स्वाद में हल्का मीठा होता है। यह पिरामिडनुमा आकार के क्रिस्टल के रूप में पाया जाता है। मुख्य रुप से बेकरी प्रोडक्ट्स में इसका उपयोग होता है, जैसे ब्रेड,केक, बन, कूकीज़, पेस्ट्रीज़ ,डोनट और बिस्किट । इसके अलावा सलाद की गार्निशिंग के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है। आजकल कई होटल्स तथा रेस्त्रां में सब्जियों के फ्लेवर वाले नमक का उपयोग किया जा रहा है।

जाहिर है कि अगली बार अगर आप नमक की इतनी वैरायटी देखेंगे, तो आपको पता होगा कि किस नमक का इस्तेमाल कहां करना है।