नवरात्र में गरबा करने से होगी एक्सरसाइज़, कैसे? जानिये

नवरात्र में जिम जाने के बदले करें डांडिया

 
Things You Can Relate To If You Are A Dandiya Lover
गरबा खेलने का चाव सभी में होता है, लेकिन यह शौक आपको कई फायदे दे सकता है। गरबा के शौक को इंजॉय करते हुए आप कई सेहत से जुड़े फायदे पा सकते हैं। यह एक डांस फॉर्म के अलावा फुल बॉडी एक्सरसाइज भी है, जिसे करने से सिर्फ वेट लॉस ही नहीं होता, बल्कि यह कई बीमारियों को भी ठीक करता है। आइए जानते हैं कैसे।
फिटनेस वर्ल्ड में गरबा को एरोबिक्स की तरह माना जाता है। इस एक्सरसाइज को करने से पॉजिटिव एनर्जी आपके अंदर आती है, लेकिन इसका पूरा फायदा लेने के लिए आपको खाने पीने का भी ध्यान रखना चाहिए। जैसे हम एक्सरसाइज के दौरान भरपूर पानी पीते हैं, उसी तरह गरबे के दौरान भी आपको अच्छी मात्रा में पानी पीने की ज़रूरत होती है।आइए जानते हैं किस तरह आप गरबे को एक्सरसाइज़ से रिप्लेस कर सकते हैं।
अगर आपकी कमर का घेरा ज्यादा है, तो आपको गरबा ज़रूर करना चाहिए। इससे बेहतर एक्सरसाइज़ आपको पतली कमर के लिए नहीं मिलेगी। इसके कई मूव्स ऐसे होते हैं जो आपकी कमर की चर्बी को हटाने के काम आते हैं। यह फुल बॉडी एक्सरसाइज़ है।
Youngsters love the garba and dandiya dance functions that take place during navratri
आपको जानकर हैरानी होगी कि 20 मिनट गरबा करके आप करीब 250 से 300 कैलोरी बर्न कर सकते हैं

गरबे में संगीत पर थिरकने से दिमाग में अच्छे हारमोंस पैदा होते हैं। इससे स्ट्रेस लेवल घटता है और सामूहिक रूप से गरबा करने से आपको एक अलग खुशी मिलती है, जो दिमाग में तनाव कम करती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि 20 मिनट गरबा करके आप करीब 250 से 300 कैलोरी बर्न कर सकते हैं, इससे वेट लॉस होना आसान हो जाता है। यदि 40 मिनट तक लगातार गरबा किया जाए, तो करीब 500 कैलोरी बर्न की जा सकती है।

जैसा की आप सभी जानते हैं गरबे में हाथ से लेकर पैर और कमर से लेकर सिर तक सभी कुछ मूव होता है, इससे शरीर में लचीलापन तो आता ही है साथ ही जोड़ों में होने वाली अकड़न भी इससे दूर होती है। यूं तो गरबा हर उम्र के व्यक्ति को करना चाहिए, लेकिन यदि 35 वर्ष से अधिक उम्र के लोग सही तरीके से गरबा करें, तो उन्हें भूलने की बीमारी नहीं होती। माना जाता है गरबा करने से मस्तिष्क में ऐसे हार्मोन पैदा होते हैं जो मस्तिष्क को नियंत्रित करते हैं, इससे याददाश्त बेहतर होती है।
गरबे को पॉजिटिव डांस फॉर्म माना जाता है, इसीलिए गरबा करने से व्यक्ति के मन की शुद्धि होती है। गरबा मांसपेशियों को टोन करता है और चेहरे पर निखार लाता है और मन को खुश करने के साथ-साथ व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास भी पैदा करता है। यह ऐसा नृत्य है जो व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव करता है और नेगेटिव एनर्जी को दूर करता है।
Ahmedabad dancers put on the most authentic dresses for Garba
यह एक कार्डियो एक्सरसाइज़ का रूप है
गरबा करने का सबसे बड़ा फायदा है कि यह आपके दिल के लिए फायदेमंद माना जाता है। गरबा नृत्य कार्डियो के रूप में कार्य करता है, जो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करता है। यह एक कार्डियो एक्सरसाइज़ का रूप है, जो फेफड़े की क्रियाओं को बेहतर बनाता है। जिसके कारण इंसान की श्वसन प्रणाली अच्छी तरह से काम करती है। इस तरह गरबा नृत्य आपको खुशी देता है, साथ ही आपकी सेहत का भी पूरा पूरा ख्याल रखता है।
यदि आप नवरात्रि के गरबा करें तो आप कई मायनों में अच्छी तरह से वेट लॉस कर सकते हैं। साथ ही यह आपके लिए एक रिजूवनेशन प्रोसेस के रूप में काम करेगा।