क्रिसमस स्पेशल: क्रिसमस ट्री आपको देता है सेहत का तोहफा, जानिये कैसे

क्यों सजाया जाता है क्रिसमस ट्री?

 

क्रिसमस है और लोग इस फ़ेस्टिवल को मनाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रहे। क्रिसमस की तैयारियों में लोग ज़ोरों-शोरों से हिस्सा ले रहे हैं। क्रिसमस के लिए ख़ास तौर क्रिसमस ट्री को सजाने की परंपरा रही है। विदेशों में लोग क्रिसमस ट्री को ढूंढकर उसे घर लाते हैं और उसे सजाते हैं। लेकिन हमारे देश में क्रिसमस ट्री ना मिलने की वजह से लोग प्लास्टिक से बने ट्री ला लिया करते हैं। आपको जानकार हैरानी होगी कि क्रिसमस ट्री के पीछे कई कहानियां प्रचलित हैं, जिसके अनुसार क्रिसमस ट्री को क्यों सजाया जाता है, यह बताया गया है। इसके अलावा क्रिसमस ट्री को घर लाने से होने वाले फ़ायदों का भी ज़िक्र किया गया है। आज हम आपको क्रिसमस ट्री के बारे में कुछ ऐसी बातें बताएंगे, जो आपने पहले कभी नहीं सुनी होंगी।

सकारात्मक बदलाव लाता है क्रिसमस ट्री

लोगों को मानसिक परेशानियां सताती हैं, उनके लिए क्रिसमस ट्री का घर में होना फ़ायदेमंद माना जाता है

कहा जाता है कि ये क्रिसमस ट्री, जिसके लिए डगलस और बालसम जैसे पौधों का इस्तेमाल किया जाता है, ये आपके घर में पॉज़िटिव एनर्जी ले कर आते हैं। ये पेड़ अपने आकार की वजह से घर में सकारात्मक एनर्जी का प्रवाह करता है और नकारात्मकता को दूर करता है। यह दिखने में खूबसूरत होता है, जिसकी वजह से इसे घर में रखने से तनाव दूर होता है। जिन लोगों को मानसिक परेशानियां सताती हैं, उनके लिए क्रिसमस ट्री का घर में होना फ़ायदेमंद माना जाता है।

क्यों सजाया जाता है क्रिसमस ट्री?

इतिहास में क्रिसमस ट्री को सजाने से जुड़ी कई कहानियां प्रचलित हैं। कहा जाता है कि एक बुढ़िया देवदार के वृक्ष से एक शाखा घर ले आयी। जिसके बाद उसने उस शाखा को घर पर सजा दिया। एक मकड़ी ने उस शाखा को चारों ओर से जालों से घेर लिया था। इसके बाद जब यीशु मसीह का जन्म हुआ, तो ये जाले सोने के तारों में बदल गए। इसके बाद से ही देवदार के वृक्ष की शाखाओं को घर लाकर सजाने की परंपरा चल निकली। लोग यीशु मसीह का शुक्रिया करते हुए इन शाखाओं को घरों में हर साल सजाने लगे।

Christmas afterall, is the time for togetherness, reunions, smiles and celebrations
यीशु मसीह का शुक्रिया करते हुए इन शाखाओं को घरों में हर साल सजाने लगे।

क्रिसमस ट्री से होते हैं नुक्सान भी

जहां कुछ लोग इस ट्री के सेहत से जुड़े लाभ बताते हैं, वहीं कुछ लोगों का मानना है कि इन पौधों को घर में लाने से संक्रमण, सर्दी-ज़ुकाम बढ़ता है। यदि ये ज़ुकाम बढ़ जाता है, तो ये इन्सोमिया जैसी समस्याओं में तब्दील हो सकता है। इसलिए विशेषज्ञ इन तकलीफों को ‘क्रिसमस ट्री सिंड्रोम’ के नाम से जानते हैं। डॉक्टर्स इन समस्याओं से बचने के लिए लोगों को सलाह देते हैं कि घर में बहुत बड़ा क्रिसमस ट्री लाने की बजाय छोटा सा पौधा लाना फायदेमंद होगा।