बाहर का खाना भी खा सके और एसिडिटी भी ना हो इस बात का कैसे रखे ख्याल

जितना चाहे स्ट्रीट फूड खाए, लेकिन बस इन बातों का रखे ख्याल

 
how-to-avoid-acidity-when-you’re-eating-out-640x480

सर्दियां आ रहीं हैं और सर्दियों का नाम आते ही क्रिसमस और नए साल की छुट्टीयाें के साथ साथ सर्दियों में मिलती सब्जियां और फलो की भी याद आ जाती है। दरअसल इस मौसम में मिलते फल और हरी पत्तेदार सब्ज़ियां जितनी भी खाओ कम ही लगती है, वहीं वेकेशन के दौरान हम रास्ते का खाना यानी स्ट्रीट फूड खाने से भी खुद को नहीं रोक पाते। जहां इन सब का अपना एक अलग ही मज़ा है, वहीं कभी कभार ऐसा ज़रुर हो जाता होगा कि एसिडिटी आपके इस सारे मूड को खराब कर दे।

अच्छी खबर ये है कि आप कुछ आसान टिप्स का ध्यान रख कर एसिडिटी को टाल सकते हैं

थोड़ी थोड़ी मात्रा में खाना खाए

खाना जितना भी स्वादिष्ट क्यों ना हो, लेकिन जब आप बहुत ज़्यादा या भूख से ज़्यादा खा लेते हैं, तो आपको पेट भारी भारी लगता है साथ ही साथ आपको इसॉफ़गस (भोजन नलिका) पर भी भारीपन सा लगता है और यही कारण होता है एसिडिटी का। इसका सबसे अच्छा उपाय ये है कि आप एक साथ बहुत ज़्यादा खाना खाने की बजाय, छोटी छोटी मात्रा में हर छोटे छोटे इंटरवल में खाना खाए।

खाने के तुरंत बाद ना सोए

कई बार भर पेट खाना खा लेने के बाद नींद आती है। खाना भूख से ज़्यादा खा लिया तो थकान के साथ साथ बेचैनी भी महसूस हो सकती हैं। ऐसे में आपको लगता है कि सो कर थोड़ा आराम कर लिया जाए, लेकिन ध्यान रहे कि खाने के तुरंत बाद सोने से आपके शरीर में एसिड बनता है। खाने के बांद तुरंत सोना एसिडिटी का सबसे बड़ा कारण है। बेहतर होगा कि खाने और सोने के दरम्यान दो घंटे का अंतर ज़रुर हो।

take-a-short-walk-or-finish-up-some-small-chores-after-your-meal-and-then-rest-500x360
बेहतर होगा कि खाने के बाद आप या तो वॉक करे या फिर छोटे मोटे काम निपटा कर सोए

एसिडिटी का कारण कहीं दवाईयां तो नहीं

अगर आप का किसी भी तरह को कोई भी इलाज चल रहा है और आप दवाईयां ले रहे हैं, तो हो सकता है कि यही आपकी एसिडिटी का कारण है। ऐसी बहुत सी दवाईयां है जो एसिडिटी का कारण हो सकती हैं। कुछ एंटीबॉयोटिक्स, सप्लीमेंट्स, एंटी एलर्जी और अस्थमा की दवाईयां होती है, जिन्हें लेने से आपको एसिडिटी होगी ही। बेहतर है कि आप किसी भी तरह की दवाई लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात कर ले और हो सके उन्हें ऐसी दवाई देने के लिए बोले, जिसे लेने से आपको एसिडिटी ना हो।

अल्कोहल और स्मोकिंग आपकी एसिडिटी का कारण तो नहीं

निकोटिन और अल्कोहल आपकी इसॉफ़गस (भोजन नलिका) को कमज़ोर करता है साथ ही एसिड बनने से रोकने वाली हमारी शरीर की क्रियाओं में भी वो बाधा डालता है, जिसका नतीजा है एसिडिटी। जितना हो सके सिगरेट और अल्कोहल को अपने से दूर रखे। वैसे भी यह दोनों चीज़े किसी की भी सेहत के लिए ठीक नहीं।

अपने खाने पर रखे नज़र

कुछ खाना ऐसा होता है जिसकी वजह से एसिडिटी की समस्या बढ़ सकती हैं। ज़्यादा मसाले वाला, तला हुआ, खट्टा, चॉकलेट जैसी कुछ चीजे ऐसी है, जिसकी वजह से एसिडिटी बढ़ जाती हैं। हो सके तो इन चीजों को खाने से बचे या फिर कम से कम मात्रा में खाएं।
अगर आपको एसिडिटी की समस्या है या कभी भी आप इसका शिकार हुए हैं, तो आप इसके उपचार के लिए अपने डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं।