क्या है ज़्यादा हेल्दी गर्म या ठंडा दूध?

गर्म दूध ही नहीं, ठंडा दूध भी बेहद फायदेमंद

 
credit: Time Magazine

दूध सभी को पसंद होता है। ये एक ऐसे पौष्टिक ड्रिंक है, जिसे पीने के बाद शरीर को दुगुना फायदा मिलता है और इसलिए घर के बड़े-बूढ़े सभी को रोज़ाना दूध पीने की सलाह देते हैं। ऐसा इसलिए होता है कि दूध में मौजूद ज़रूरी तत्व शरीर को अंदर से मज़बूत बनाते हैं और आपको दिनभर के काम के लिए तैयार करते हैं। कुछ लोग ब्रेकफास्ट में दूध लेना पसंद करते हैं, वहीं कुछ लोग दिन भर की थकान मिटाने के लिए रात को गरमा-गर्म दूध पीते हैं।

जैसा कि सभी जानते हैं कि दूध कैल्शियम का ही नहीं बल्कि विटामिन का भी एक अच्छा स्त्रोत है और इसलिए डॉक्टर्स प्रतिदिन दूध पीने की सलाह देते हैं। खास तौर पर बच्चों के लिए दूध पीना बेहद ज़रूरी माना जाता है, क्योंकि ये उनके विकास में मदद करता है। लेकिन ये सवाल अक्सर लोगों के मन में जागता है कि सबसे ज़्यादा फ़ायदेमंद क्या है? गर्म दूध पीना या ठंडा दूध पीना? चलिए आज हम आपको बताते हैं कि कब आपको कैसा दूध पीना चाहिए।

गर्म दूध

गर्म दूध शरीर की हड्डियों और दांतों के लिए बेहद फायदेमंद होता है

credit: healthline.com

जिन लोगों को रात में अनिंद्रा की शिकायत रहती है, उन्हें रात में गर्म दूध पीना चाहिए। दूध में बड़ी मात्रा में ट्रिप्टोफान नामक तत्व होता है, जो शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन कैमिकल रिलीज़ करता है, जिससे व्यक्ति को आराम मिलता है और वो रिलेक्स होकर अच्छीं नींद ले पाता है। वहीं दूसरी ओर गर्म दूध शरीर की हड्डियों और दांतों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इससे मिलने वाले कैल्शियम से शरीर के मसल्स मज़बूत होते हैं। इसलिए सभी को ब्रेकफास्ट में गर्म दूध पीने की सलाह दी जाती है, जिससे आप दिन भर ऊर्जावान बने रहें।

न्यूट्रिशनिस्ट डॉ. राजश्री चवान का मानना है कि महिलाओं को पीरियड्स के दौरान मूड स्विंग्स की समस्या होती है, यदि आप चाहती हैं कि इससे आप बच सकें, तो आपको पीरियड्स में गर्म दूध पीना चाहिए। इससे न सिर्फ आप अच्छा महसूस करेंगी, साथ ही आपको ऊर्जा भी मिलेगी।

ठंडा दूध

कैल्शिययम पेट में एसिड बनने से रोकता है

credit: secretlands.ca

यदि आप ये सोचते हैं कि गर्म दूध ठन्डे दूध से बेहतर है, तो आप गलत हैं। क्योंकि ठन्डे दूध के भी अपने फायदे हैं। एक्सपर्ट्स की माने तो यदि आपको एसिडिटी की समस्या है, तो ठन्डे दूध से बेहतर आपके लिए कुछ नहीं हो सकता। इसमें मौजूद कैल्शिययम पेट में एसिड बनने से रोकता है, जिससे कुछ ही देर में एसिडिटी कम हो जाती है।

साथ ही ठंडे दूध में पानी की भरपूर मात्रा होती है, जो आपके शरीर को थकने नहीं देता और आप हायड्रेट रहते हैं। यदि आप सुबह वर्कआउट के बाद ठंडा दूध पीते हैं, तो यह आपको दुगुना फायदा पहुंचाता है।

अगर आप मोटापा कम करना चाहते हैं और कई तरीके अपनाकर थक चुके है, तो एक ठंडा दूध पीकर वज़न घटा कर देखिए। दरअसल जब हम ठंडा दूध पीते है तो शरीर को उसे सामान्य तापमान में लाने के लिए कैलोरी बर्न करनी पड़ती है। इससे मोटापा कंट्रोल होता है।

यहां हम दूध पीने की बात कर रहे हैं, लेकिन यदि ठंडे दूध को स्किन पर लगाया जाए, तो त्वचा मुलायम और साफ़ बनती है और साथ ही इसमें खिंचाव भी आता है।

इस तरह गर्म और ठंडे दूध को आपकी ज़रुरत के अनुसार पीया जाए, तो दोनों ही आपके शरीर के लिए बेहतर माने जाते हैं। तो क्यों न आज से ही दूध का एक ग्लास अपनी दिनचर्या में जोड़ लें।