क्या आप जानते हैं क्या है ताजमहल का रहस्य?

आगरा के ताजमहल के बारे में ये बात आपने पहले नहीं सुनी होगी!

 
Credit: independent.co.uk

ताजमहल एक खूबसूरत मीनार है, जिसे प्यार की निशानी के रूप में जाना जाता है। ये दुनिया के 7 अजूबों में से एक है, जिसे देखने हर साल लाखों सैलानी आगरा आया करते हैं। कोई इसे चमकती धूप में देखना चाहता है, तो कोई इसे पूर्णिमा के दिन चारों ओर फैली चांदनी में। इसकी खूबसूरती के सभी कायल है, लेकिन दूसरी ओर ये अपने अंदर कई रहस्य छुपाए हुए है।आज हम ताजमहल के कुछ ऐसे ही रहस्यों के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिसे हाल ही में वैज्ञानिकों ने खोज निकाला है। आइए जानते हैं कौन से हैं वे रहस्य।

रहस्यों से भरा है ताजमहल का बेसमेंट

इस निर्माण के तहत करीब एक हजार से ज्यादा कमरे इसके बेसमेंट में बनवाए गए हैं

credit: stephen-knapp.com

आप में से कई लोगों ने ताजमहल को देखा होगा, लेकिन कहा जाता है कि ये जितना ऊंचा ज़मीन के ऊपर बनाया गया है, उतना ही नीचे भी इसकी नींव है। कुछ समय पहले ताजमहल को लेकर हुई एक शोध में पता चला की इसका निर्माण काफी गहराई तक किया गया है और इस निर्माण के तहत करीब एक हजार से ज्यादा कमरे इसके बेसमेंट में बनवाए गए हैं। हालांकि यह आज तक नहीं जाना जा सका कि इन कमरों का कैसे इस्तेमाल किया जाता था। कहा जाता है कि ताजमहल में ऐसे कई रास्ते हैं जो गुप्त रूप से बनाए गए हैं, लेकिन इस शोध में इस बात का पता नहीं लगाया जा सका कि ये दरवाज़े आखिर कहां खुलते हैं।

क्या ताजमहल के बेसमेंट में छिपा है खजाना?

इन कमरों में खजाना छिपा कर रखा गया है

credit: sonchirri.com

इस शोध के दौरान शोधकर्ताओं ने एक ऐसी बात का उल्लेख किया है जिसे सुनकर अच्छे अच्छों के होश उड़ सकते हैं। कहा जा रहा है कि ताजमहल की गहराई में बनाए गए इन कमरों में खजाना छिपा कर रखा गया है, लेकिन इन कमरों को कई सौ सालों पहले ईंटों से बंद करवा दिया गया था। ऐसा किसने किया और क्यों, यह आज तक पता नहीं चल पाया। शोधकर्ताओं ने मेटल डिटेक्टर की मदद से ताजमहल की जांच की, जिससे ज़मीन के नीचे धातु होने के आसार उन्हें पता चले। इसी बात को लेकर दावा किया गया कि ताजमहल के इन कमरों में खजाना छिपा हो सकता है।

मुमताज़ की कब्र या ख़ज़ाने का ठिकाना?

एक किताब के अनुसार यह भी कहा गया कि ताजमहल को मुमताज़ की कब्र के लिए नहीं, बल्कि शाहजहां ने ख़ज़ाना छुपाने के लिए बनाया था।लेकिन इसकी पुष्टि आधिकारिक रूप से नहीं की गई। आज भी ताजमहल के तहखाने अपने रहस्य को आंचल में समेटे हुए हैं। अब तक शोधकर्ताओं को इन कमरों में मौजूद खज़ाने को लेकर कोई सबूत नहीं मिला है, लेकिन इसकी खोज सालों से जारी है।

अब ये तो समय आने पर ही पता लगाया जाएगा कि मुगलों की बनाई इस खूबसूरत इमारत का सच आखिर है क्या!