सक्सेस पाना हो, तो करें ये काम

सक्सेस पाना होगा आसान, बस करें ये काम

 
ff4f4624-heres-how-you-can-make-your-next-performance-review-less-painful-640x480

कई बार कड़ी मेहनत के बाद भी छोटी-छोटी गलतियों के चलते हमें हमारे मनचाहे काम में सफलता नहीं मिल पाती, इसीलिए आपको इन गलतियों पर ध्यान देने की ज़रुरत होती है। यदि आप अपनी गलतियों पर ध्यान देंगे तो सक्सेस की ओर आसानी से बढ़ पाएंगे। ऑफिस में आपके काम से ही आपकी पहचान बनती है और यही काम आपको दूसरों से अलग करता है, इसलिए आपको खुद की ब्रांडिंग करनी ज़रुरी होती है। कई बार ऑफिस में होने वाली समस्याओं के बारे में एंप्लॉई खोल कर अपना पक्ष नहीं रखता और इसी वजह से परेशान रहता है। इसका सीधा असर उसके काम पर पड़ता है। यदि आप सक्सेस पाना चाहते हैं तो आपको कुछ बातों का ख्याल रखना होगा।

यदि आपका बॉस बार बार आपके हर काम में कमियां निकाल रहा है, तो उससे नाराज़ होने की बजाय उसकी बातों पर ध्यान दें और समझने की कोशिश करे कि आखिर वो ऐसा क्यों कर रहे हैं। बेहद ज़रूरी है कि आप अपनी गलतियों को समझें और उन गलतियों को दोहराने से बचें। गलती करना एक मानवीय स्वभाव है, लिहाज़ा यदि आप से गलती हो तो डरने या घबराने के बजाय उस गलती को स्वीकार करें और उसे सुधारने की कोशिश करें। खुद को काम के बोझ तले दबाने से बेहतर है कि उतना ही काम करें जिसमें आप अपना बेस्ट दे सकते हैं। साथ ही अपने डिपार्टमेंट के रिपोर्टिंग स्ट्रक्चर को भी समझें।

कई बार हम एक ही कंपनी में लंबे समय तक एक ही तरह का काम करते रहते हैं, जिससे हम कंफर्ट ज़ोन में आ जाते हैं, लेकिन यह आपके करियर के लिए नुकसानदेह हो सकता है। एक ही कंपनी में लंबे समय तक रहना ठीक है ,इससे आप नया नहीं सीख पाते, जो आपकी ग्रोथ को रोक देता है। खुद को अप टू डेट रखना बेहद ज़रूरी है। इसलिए नई तकनीक और वक्त के साथ खुद में बदलाव करते रहें। भले ही आपने काफी कुछ सीख लिया हो, साथ ही अच्छी शिक्षा ली हो और साथ ही आप कई मायनों में दूसरों से बेहतर हों, लेकिन अगर आप में आत्मविश्वास नहीं है, तो यह सब बेकार साबित होगा। इसलिए आत्मविश्वास के साथ अपने काम करने के हुनर को भी समय-समय पर तराशते रहे।

अक्सर ऑफिस के कई लोग हमारी आलोचना करने में माहिर होते हैं। ज़रूरी नहीं कि ऑफिस के हर व्यक्ति आपका शुभचिंतक हो। कई बार लोग आपको तंग करने के लिए भी आलोचना का सहारा लेते हैं, जिससे आप काम में कॉन्संट्रेट ना कर पाए। ऐसे लोगों की बातों को नज़रअंदाज़ करें, वरना नुकसान आपका ही होगा। यदि आप इन बातों को नज़रअंदाज़ करेंगे तो आप अपने काम पर ज़्यादा ध्यान दे सकेंगे और इससे आलोचक को यह संदेश जाएगा कि आप उसकी उथली बातों में वक्त जाया नहीं करना चाहते हैं।

इस तरह आप गलतियों को ठीक कर आप सक्सेस की ओर बढ़ पाएंगे।